सीपीटेट क एग्जाम 16 दिसंबर से शुरू होकर 21 जनवरी तक चला था

पेपर कई शिफ्ट में होने की वजह से कुछ पेपर आसान थे जबकि कुछ पेपर कठिन थे इसलिए 

नॉर्मलाईजेशन होना स्वाभाविक है इसमें कुछ अभ्यर्थियों के नंबर बढ़ सकते हैं तो कुछ के घाट सकते हैं अगर आपको जानना है कि आपके बढ़ेंगे या घटेंगे तो

Arrow

हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन करें जिसका लिंक नीचे दिया गया है जहाँ पर हमने बताया है किस शिफ्ट को कितना नॉर्मलाईजेशन नंबर मिलेगा हैं 

Arrow

आप हमारी वेबसाइट SarkariMe.Com पर भी जा सकते हैं मैंने वहां पर भी बोनस अंक के बारे में बताया है |  वेबसाइट का लिंक नीचे दिया गया है 

Arrow

आप हमारी वेबसाइट SarkariMe.Com पर भी जा सकते हैं मैंने वहां पर भी नॉर्मलाईजेशन के बारे में बताया है |  वेबसाइट का लिंक नीचे दिया गया है 

Arrow